Sunday, November 22, 2009

साईं बाबा उर्फ़ राजू उर्फ़ सत्यनारायण रत्नाकर , शरणम् गच्छामि !


www.blogvani.com


दोस्तों 
23 -नवम्बर वो तारीख है जब श्री सत्य साईं का जन्म हुआ था /
आज से 83 वर्ष पूरब पुत्तापाथी [   puttapathy  ]में सत्य साईं का प्रगटन एक बड़े समुदाय के लिए काफी मायने रखता है जिनकी श्रधा और विशवास साईं में है उनके लिए यह जन्मोत्सव किसी भी तरह बड़े त्यौहार से कम नहीं बल्कि बढ़कर है /
साईं को लेकर अनेक मर्तवा तरह तरह से आपतियां उठती रही है / देश की प्रतिष्ठित पत्रिका'' इंडिया टुडे '' ने वर्षो पहले, जब केंद्र में नर्सिघ राव सरकार थी, बाबा को लेकर बड़ा हो-हल्ला मचाया था / बाबा के चमत्कारी कारनामो को ''एक हाँथ की सफाई '' साबित करने में कोई कसर बांकी नहीं छोड़ी थी / जो गंभीर आरोप इस प्रतिष्ठित पत्रिका ने लगाए थे वो बाबा के सैम्लिंगिक संबंधो को लेकर थे जो की उनके अपने भक्तो से बताये गए थे / बाबा से खार खाए भक्तो ने एकजुट हो कर एक वेबसाईट तक लोंच कर दी थी , जिस पर वो भक्त दुसरे लोगो को अपनी आपबीती सुनाकर सावधान करते आ रहे है जिसमे औरत और पुरूष दोनों सामिल है /
खैर बाबा का जन्म वृश्चिक लग्न में और मिथुन राशी में हुआ है / बाबा की कुंडली अनुसार अभी सूर्य महादशा में शनि का अन्तर चल रहा है जो 2010 के अक्टूबर तक चले गी /  बाबा का सूर्य और शनि दोनों लग्न में अत्यंत रूष्ट अवस्था में बैठे है / यह अंतर दशा ठीक नहीं / परन्तु साथ बैठा शुक्र अत्यंत बलवान और राजयोग कारी है / परन्तु आयन्दा लगभग एक वर्ष बाबा के लिए उत्तम नहीं है /  आयन्दा एक वर्ष बाबा गहन चर्चो में पड़ सकते है  अतः सचेष्ट रहना उत्तम रहेगा /
जय साईं नाथ !